Preferred language:

This is the default search language used by BabelNet
Select the main languages you wish to use in BabelNet:
Selected languages will be available in the dropdown menus and in BabelNet entries
Select all

A

B

C

D

E

F

G

H

I

J

K

L

M

N

O

P

Q

R

S

T

U

V

W

X

Y

Z

all preferred languages
    •     bn:00007498n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/05/23     •     Categories: استعراف, اليقظة (علم النفس), تحليل نفسي, تقييم نفسي عصبي...

  دراية · وعي · الوعي · إِدْراك · دِراية

الوعي Cognition: كلمةٌ تدلُّ على ضمِّ شيء. Wikipedia

More definitions


الدراية هي القدرة على الإدراك أو الشعور بالوعي بالأحداث والأشياء والأفكار والعواطف والأنماط الحسية. Wikipedia
النظرة الدونية للآخر المختلف بالمستوى الإقتصادي أو الاجتماعي مدعاة لطرد النعم. - لطيفة العوجان لا تستمع لأي تعليق سلبي على ذكرى ماضية أو قرار تم اتخاذه بوعي. - لطيفة العوجان البعض يوجد مبررات لتقصيره حتى لو لم تكن منطقية، ويعجز أن يجد مبررات لتقصير الآخرين! Wikiquote

    •     bn:00007498n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/05/23     •     Categories: 心理学, 心灵哲学, 神经科学, 认知科学

  意识 · 意识 · 认识 认识 · Consciousness · 分别识

意识({为意识是人对环境及自我的认知能力以及认知的清晰程度。 Wikipedia

    •     bn:00007498n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/05/23     •     Categories: Cognition, Cognitive neuroscience, Cognitive psychology, Consciousness...

  awareness · consciousness · knowingness · cognisance · cognizance  

Having knowledge of WordNet

More definitions


Awareness is the ability to directly know and perceive, to feel, or to be cognizant of events. Wikipedia
Consciousnesssteamshiptate or quality of awareness or of being aware of an external object or something within oneself. Wikipedia
Quality or state of being aware of an external object Wikidata
State or ability to perceive, to feel, or to be conscious of events, objects, or sensory patterns Wikidata
The state of being conscious or aware. OmegaWiki
The state of being conscious or aware; awareness. Wiktionary
The state or quality of being aware of something. Wiktionary
The quality or state of being knowing. Wiktionary
Awareness is a term referring to the ability to be perceive, to feel, or to be conscious of events, objects or patterns, which does not necessarily imply understanding. Wikiquote
Awareness is a derivative of aware. FrameNet
One's awareness or perception of something. FrameNet

The awareness of one type of idea naturally fosters an awareness of another idea Wiktionary

More examples

He had no awareness of his mistakes WordNet
His sudden consciousness of the problem he faced WordNet
Their intelligence and general knowingness was impressive WordNet

    •     bn:00007498n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/05/23     •     Categories: Conscience, Médiation, Philosophie de l'esprit, Psychologie clinique...

  conscience   · connaissance · Conscient · Bonne conscience · Conscience de soi

Le terme de conscience peut faire référence à au moins quatre concepts philosophiques ou psychologiques : au sens psychologique, elle se définit comme la « relation intériorisée immédiate ou médiate qu'un être est capable d’établir avec le monde où il vit ou avec lui-même ». Wikipedia

More definitions


Faculté mentale de concevoir sa propre existence Wikidata
État d'être conscient ou de se rendre compte. OmegaWiki
La conscience correspond à la perception, la connaissance plus ou moins claire que chacun peut avoir de son existence et de celle du monde extérieur. Wikiquote

    •     bn:00007498n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/05/23     •     Categories: Allgemeine Psychologie, Kategorie, Kognitionswissenschaft, Künstliche Intelligenz...

  Bewusstsein   · Awareness (Psychologie) · Erkenntnis · Aufklärung · Aufmerksamkeit

Awareness in der Psychologie bezieht sich auf das aktuelle, situationsbezogene Bewusstsein oder „Gewahrsein“ einer Person über ihre Umgebung, sowie die sich daraus ergebenden Handlungsimplikationen. Wikipedia

More definitions


Bewusstsein ist im weitesten Sinne das Erleben mentaler Zustände und Prozesse. Wikipedia
Neuropsychologischer und geisteswissenschaftlicher Zustand und Gegenstand Wikipedia (disambiguation)
Erlebbare Existenz mentaler Zustände und Prozesse Wikidata

    •     bn:00007498n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/05/23     •     Categories: Γνωστική ψυχολογία, Διανοητικές διαδικασίες, Νευροεπιστήμη, Νευροψυχολογική αξιολόγηση...

  Συνείδηση · επίγνωση · γνώση · συναίσθηση · συνειδητοποίηση

Συνείδηση είναι η νοητική δυνατότητα ενός οργανισμού η οποία του επιτρέπει, σε προέκταση των αισθήσεών του, να γνωρίζει και να κατανοεί τον εαυτό του, το περιβάλλον του, τα συμβαίνοντα γύρω του και μέσα του και να έχει το δυνατόν την αίσθηση της «θέσης» και της σημασίας του στον κόσμο καθώς και του αντίκτυπου των πράξεών του. Wikipedia

More definitions


Πλήρης, σαφής και ακριβής γνώση σχετικά με κάτι. Απόλυτη επίγνωση και συνείδηση μιας κατάστασης Greek WordNet

    •     bn:00007498n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/05/23     •     Categories: יישומי מחשב, פילוסופיה של הנפש, פסיכולוגיה, קטגוריה...

  מודעות · תודעה · הכרה עצמית · מודע · תודעה עצמית

מוּדעוּת היא הגעת קיומו של דבר לידיעת האדם, או הימצאותו של דבר מה באחת מרמות התודעה האנושית, הפרטית או הכללית. Wikipedia

More definitions


תודעה היא התכונה הבסיסית ביותר של הנפש, ובדרך כלל מייחסים אליה תכונות כמו חוויה מודעת, קווליה, ניסיון אישי, הכרה-עצמית, סובייקטיביות, כושר הבנה וחישה והאפשרות להבין את היחסים בין הזהות האישית לסביבה. Wikipedia
תכונה בנפש האדם המאפשרת מודעות והכרה Wikidata
הגעת קיומו של דבר לידיעת האדם Wikidata

    •     bn:00007498n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/05/23     •     Categories: चेतना, मनोविज्ञान

  चेतना · चेतन तत्त्व · चेतनाएँ · परम तत्त्व

चेतना कुछ जीवधारियों में स्वयं के और अपने आसपास के वातावरण के तत्वों का बोध होने, उन्हें समझने तथा उनकी बातों का मूल्यांकन करने की शक्ति का नाम है। विज्ञान के अनुसार चेतना वह अनुभूति है जो मस्तिष्क में पहुँचनेवाले अभिगामी आवेगों से उत्पन्न होती है। इन आवेगों का अर्थ तुरंत अथवा बाद में लगाया जाता है। चेतना ___ मनुष्य का वास्तविक अस्तित्व उसकी चेतना ही है जो मस्तिष्क के बीचो-बीच रहती है । ह्रदय में जो अवचेतन है जिसके कारण परिकल्पना की दुनिया है जिसमें प्रचीन धर्म सभ्यता व साम्राज्य की कथा है उसमें स्वयं का कोई वास्तविक अस्तित्व नहीं है । वास्तविक दुनिया के इतिहास में भविष्य में स्वयं का असित्व की स्मरण और कल्पना ही रहती है वहां भी वास्तविक नहीं है वर्तमान समय के दुनिया में स्वयं का अस्तिव मात्र स्वयं का शरीर है परन्तु शरीर से भी जो भिन्न अदृश्य और अभौतिक स्वयं का वास्तविक अस्तित्व है वहां स्वयं की चेतना है वही आत्मा है। अवचेतन मन स्वयं का वास्तविक अस्तित्व नहीं क्योंकि यहां सम्पूर्ण विश्व के प्रकृति व मानवीय समाज से जुड़ा है शरीर तो पृथ्वी के तत्वो की देन है मन तो संसार है तो है वरना नहीं पंचमहाभूत जिसमें इन्द्रियां जैसे आंख नाक कान मुंह जिव्हा आदि रस भय क्रोध शांत आदि कुण्डलिनी चक्र शक्ति बुध्दि भाव शरीर के अंगों की रचना तो पंच तत्व है ह्रदय से भाव इच्छा भी स्वयं का असित्व नहीं है जो सिर्फ और सिर्फ स्वयं का वास्तविक अस्तित्व है वहां स्वयं की चेतना है । ये शरीर तो पृथ्वी की देन है ये ह्रदय के कारण लोगों का सम्बन्ध है इस अवचेतन मन के कारण परमात्मा आत्मा और जीवात्मा से मनुष्य जुड़ा है परन्तु चेतना जो मस्तिष्क के बीचो-बीच है उसमें स्वयं का वास्तविक अस्तित्व है उसमें ध्यान केन्द्रित कर लेने पर मोक्ष की आवश्यकता ही नहीं होती है। संसार के दुख सुख तो मन को होती है चेतना को नहीं जन्म मरण शरीर का होता है चेतना का नहीं । स्वयं की चेतना ही स्वयं का वास्तविक अस्तित्व है। चेतना ही सम्पूर्ण विश्व को समझतीं है चेतना ज्ञान को धारण करती है इसलिए ज्ञान से भी जो सर्वश्रेष्ठ है वहां चेतना है । परिकल्पना की दुनिया और वास्तविक दुनिया कहा जाऐ दोनों दुनिया को जो समझती है वहां चेतना है । __ चेतना ही ब्रह्म है और परमात्मा मात्र एक परिकल्पना है वास्तविक नहीं यहां संसार पूर्णतः भ्रम है यहां सत्य नहीं है कुछ सत्य है तो चेतना ही सत्य है इसलिए वेदांत में कहा गया है ब्रह्म सत्य जगत मिथ्या चाहे वह परिकल्पना की दुनिया हो या वास्तविक दुनिया। == चेतना का स्थान == बहुत पुराने काल से प्रमस्तिष्क प्रांतस्था चेतना की मुख्य इंद्रिय, अथवा प्रमुख स्थान, माना गया है। इसमें से भी पूर्वललाट के क्षेत्र को विशेष महत्व दिया गया है। परंतु पेनफील्ड और यास्पर्स चेतना को नए तरीके से ही समझाते हैं। उनके मतानुसार चेतना का स्थान चेतक, अधश्चेतक और ऊपरी मस्तिष्क के ऊपरी भाग के आसपास है। वे लोग मस्तिष्क के इन भागों को और उनके संयोजनों को स्नायुओं के संगठन का सर्वोच्च स्तर मानते हैं। पूर्व ललाट क्षेत्र तथा अधश्चेतक के बीच बहिर्गामी नाड़ियों द्वारा संयोजन है। संयोजन प्रत्यक्ष अथवा परोक्ष है। परोक्ष संयोजन पृष्ठ केंद्रक के द्वारा होता है। इन नाड़ियों का संबंध पौंस से भी है। चेतना मनुष्य की वह विशेषता है जो उसे जीवित रखती है और जो उसे व्यक्तिगत विषय में तथा अपने वातावरण के विषय में ज्ञान कराती है। इसी ज्ञान को विचारशक्ति कहा जाता है। यही विशेषता मनुष्य में ऐसे काम करती है जिसके कारण वह जीवित प्राणी समझा जाता है। मनुष्य अपनी कोई भी शारीरिक क्रिया तब तक नहीं कर सकता जब तक कि उसको यह ज्ञान पहले न हो कि वह उस क्रिया को कर सकेगा। कोई भी मनुष्य किसी विघातक पदार्थ अथवा घटना से बचने के लिए अपने किसी अंग को तब तक नहीं हिला सकता, जब तक कि उसको यह ज्ञान न हो कि कोई घातक पदार्थ उसके सामने है और उससे बचने के लिए वह अपने अंगों को काम में ला सकता है। उदाहरणार्थ, हम एक ऐसे मनुष्य के बारे में सोच सकते हैं जो नदी की ओर जा रहा है। यदि वह चलते-चलते नदी तक पहुँच जाता है और नदी में घुस जाता है तो वह डूबकर मर जाएगा। वह अपना चलना तब तक नहीं रोक सकता और नदी में घुसने से अपने को तब तक नहीं बचा सकता जब तक कि उसकी चेतना में यह ज्ञान उत्पन्न नहीं होता कि उसके समने नदी है और वह जमीन पर तो चल सकता है, परंतु पानी पर नहीं चल सकता। मनुष्य की सभी क्रियाओं पर उपर्युक्त नियम लागू होता है चाहे, ये क्रियाएँ पहले कभी हुई हों अथवा भविष्य में कभी हों। मनुष्य केवल चेतना से उत्पन्न प्रेरणा के कारण कोई काम कर सकता है। == चेतना और चरित्र == चेतना और मनुष्य के चरित्र में मौलिक संबंध है। चेतना वह विशेष गुण है जो मनुष्य को जीवित बनाती है और चरित्र उसका वह संपूर्ण संगठन है जिसके द्वारा उसके जीवित रहने की वास्तविकता व्यक्त होती है तथा जिसके द्वारा जीवन के विभिन्न कार्य चलाए जाते हैं। किसी मनुष्य की चेतना और चरित्र केवल उसी की व्यक्तिगत संपत्ति नहीं होते। ये बहुत दिनों के सामाजिक प्रक्रम के परिणाम होते हैं। प्रत्येक व्यक्ति अपने वंशानुक्रम को स्वयं में प्रस्तुत करता है। वह विशेष प्रकार के संस्कार पैत्रिक संपत्ति के रूप में पाता है। वह इतिहास को भी स्वयं में निरूपित करता है, क्योंकि उसने विभिन्न प्रकार की शिक्षा तथा प्रशिक्षण को जीवन में पाया है। इसके अतिरिक्त वह दूसरे लोगों को भी अपने द्वारा निरूपित करता है, क्योंकि उनका प्रभाव उसके जीवन पर उनके उदाहरण, उपदेश तथा अवपीड़न के द्वारा पड़ा है। जब एक बार मनुष्य की चेतना विकसित हो जाती है, तब उसकी प्राकृतिक स्वतंत्रता चली जाती है। वह ऐसी अवस्था में भी विभिन्न प्रेरणाओं और भीतरी प्रवृत्तियों से प्रेरित होता है, परंतु वह उन्हें स्वतंत्रता से प्रकाशित नहीं कर सकता। वह या तो उन्हें इसलिए सर्वथा दबा देता है जिससे कि समाज के दूसरे लोगों की आवश्यकताओं और इच्छाओं में वे बाधक न बनें, अथवा उन्हें इस प्रकार चपेट दिया जाता है, या कृत्रिम बनाया जाता है, जिसमें उनका प्रकाशन समाजविरोधी न हो। इस प्रकार मनुष्य की चेतना अथवा विवेकी मन उसके अवचेतन, अथवा प्राकृतिक, मन पर अपना नियंत्रण रखता है। मनुष्य और पशु में यही विशेष भेद है। पशुओं के जीवन में इस प्रकार का नियंत्रण नहीं रहता, अतएव जैसा वे चाहते हैं वैसा करते हैं। मनुष्य चेतनायुक्त प्राणी है, अतएव कोई भी क्रिया करने के पहले वह उसके परिणाम के बारे में भली प्रकार सोच लेता है। == मनोवैज्ञानिक दृष्टि से चेतना == मनोविज्ञान की दृष्टि से चेतना मानव में उपस्थित वह तत्व है जिसके कारण उसे सभी प्रकार की अनुभूतियाँ होती हैं। चेतना के कारण ही हम देखते, सुनते, समझते और अनेक विषय पर चिंतन करते हैं। इसी के कारण हमें सुख-दु:ख की अनुभूति भी होती है और हम इसी के कारण अनेक प्रकार के निश्चय करते तथा अनेक पदार्थों की प्राप्ति के लिए चेष्टा करते हैं। मानव चेतना की तीन विशेषताएँ हैं। वह ज्ञानात्मक, भावात्मक और क्रियात्मक होती है। भारतीय दार्शनिकों ने इसे सच्चिदानंद रूप कहा है। आधुनिक मनोवैज्ञानिकों के विचारों से उक्त निरोपज्ञा की पुष्टि होती है। चेतना वह तत्व है जिसमें ज्ञान की, भाव की और व्यक्ति, अर्थात् क्रियाशीलता की अनुभूति है। जब हम किसी पदार्थ को जानते हैं, तो उसके स्वरूप का ज्ञान हमें होता है, उसके प्रति प्रिय अथवा अप्रिय भाव पैदा होता है और उसके प्रति इच्छा पैदा होती है, जिसके कारण या तो हम उसे अपने समीप लाते अथवा उसे अपने से दूर हटाते हैं। चेतना को दर्शन में स्वयंप्रकाश तत्व माना गया है। मनोविज्ञान अभी तक चेतना के स्वरूप में आगे नहीं बढ़ सका है। चेतना ही सभी पदार्थो को, जड़ चेतन, शरीर मन, निर्जीव जीवित, मस्तिष्क स्नायु आदि को बनाती है, उनका स्वरूप निरूपित करती है। फिर चेतना को इनके द्वारा समझाने की चेष्टा करना अविचार है। मेगडूगल महाशय के कथनानुसार जिस प्रकार भौतिक विज्ञान की अपनी ही सोचने की विधियाँ और विशेष प्रकार के प्रदत्त हैं उसी प्रकार चेतना के विषय में चिंतन करने की अपनी ही विधियाँ और प्रदत्त हैं। अतएव चेतना के विषय में भौतिक विज्ञान की विधियों से न तो सोचा जा सकता है और न उसके प्रदत्त इसके काम में आ सकते हैं। फिर भौतिक विज्ञान स्वयं अपनी उन अंतिम इकाइयों के स्वरूप के विषय में निश्चित मत प्रकाशित नहीं कर पाया है जो उस विज्ञान के आधार हैं। पदार्थ, शक्ति, गति आदि के विषय में अभी तक कामचलाऊ जानकारी हो सकी है। अभी तक उनके स्वरूप के विषय में अंतिम निर्णय नहीं हुआ है। अतएव चेतना के विषय में अंतिम निर्णय की आशा कर लेना युक्तिसंगत नहीं है। चेतना को अचेतन तत्व के द्वारा समझाना, अर्थात् उसमें कार्य-कारण संबंध जोड़ना सर्वथा अविवेकपूर्ण है। चेतना को जिन मनोवैज्ञानिकों ने जड़ पदार्थ की क्रियाओं के परिणाम के रूप में समझाने की चेष्टा की है अर्थात् जिन्होंने इसे शारीरिक क्रियाओं, स्नायुओं के स्पंदन आदि का परिणाम माना है, उन्होंने चेतना की उपस्थिति को ही समाप्त कर दिया है। उन्होंने चेतना की उपस्थिति को ही समाप्त कर दिया है। पैवलाफ और वाटसन महोदय के चिंतन का यही परिणाम हुआ है। उनके कथनानुसार मन अथवा चेतना के विषय में मनोविज्ञान में सोचना ही व्यर्थ है। मनोविज्ञान का विषय मनुष्य का दृश्यमान व्यवहार ही होना चाहिए। चेतना के शरीर में संबंध के विषय में मनोवैज्ञानिकों के विभिन्न मत हैं। कुछ के अनुसार मनुष्य के बृहत् मस्तिष्क में होनेवाली क्रियाओं, अर्थात् कुछ नाड़ियों के स्पंदन का परिणाम ही चेतना है। यह अपने में स्वतंत्र कोई तत्व नहीं है। दूसरों के अनुसार चेतना स्वयं तत्व है और उसका शरीर से आपसी संबंध है, अर्थात् चेतना में होनेवाली क्रियाएँ शरीर को प्रभावित करती हैं। कभी-कभी चेतना की क्रियाओं से शरीर प्रभावित नहीं होता और कभी शरीर की क्रियाओं से चेतना प्रभावित नहीं होती। एक मत के अनुसार शरीर चेतना के कार्य करने का यंत्र मात्र हैं, जिसे वह कभी उपयोग में लाती है और कभी नहीं लाती। परंतु यदि यंत्र बिगड़ जाए, अथवा टूट जाए, तो चेतना अपने कामों के लिए अपंग हो जाती है। कुछ गंभीर मनोवैज्ञानिक विचारकों द्वारा विज्ञान की वर्तमान प्रगति की अवस्था में उपर्युक्त मत ही सर्वोत्तम माना गया है। == चेतना के स्तर == चेतना के तीन स्तर माने गए हैं : चेतन, अवचेतन और अचेतन। चेतन स्तर पर वे सभी बातें रहती हैं जिनके द्वारा हम सोचते समझते और कार्य करते हैं। चेतना में ही मनुष्य का अहंभाव रहता है और यहीं विचारों का संगठन होता है। अवचेतन स्तर में वे बातें रहती हैं जिनका ज्ञान हमें तत्क्षण नहीं रहता, परंतु समय पर याद की जा सकती हैं। अचेतन स्तर में वे बातें रहती हैं जो हम भूल चुके हैं और जो हमारे यत्न करने पर भी हमें याद नहीं आतीं और विशेष प्रक्रिया से जिन्हें याद कराया जाता है। जो अनुभूतियाँ एक बार चेतना में रहती हैं, वे ही कभी अवचेतन और अचेतन मन में चली जाती हैं। ये अनुभूतियाँ सर्वथा निष्क्रिय नहीं होतीं, वरन् मानव को अनजाने ही प्रभावित करती रहती हैं। == चेतना का विकास == चेतना सामाजिक वातावरण के संपर्क से विकसित होती है। वातावरण के प्रभाव से मनुष्य नैतिकता, औचित्य और व्यवहारकुशलता प्राप्त करता है। इसे चेतना का विकास कहा जाता है। विकास की चरम सीमा में चेतना निज स्वतंत्रता की अनुभूति करती है। वह सामाजिक बातों को प्रभावित कर सकती है और उनसे प्रभावित होती है, परंतु इस प्रभाव से अपने आपको अलग भी कर सकती है। चेतना को इस प्रकार की अनुभूति को शुद्ध चैतन्य अथवा प्रमाता, आत्मा आदि शब्दों से संबोधित किया जाता है। इसकी चर्चा चाल्र्स युंग, स्पेंग्ल, विलियम ब्राउन आदि विद्वानों ने की है। इसे देशकाल की सीमा के बाहर माना गया है। == इन्हें भी देखें == अंतश्चेतना == बाहरी कड़ियाँ == Baars, B. । In the Theater of Consciousness: The Workspace of the Mind. Wikipedia

    •     bn:00007498n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/05/23     •     Categories: Discipline spirituali, Fenomenologia, Filosofia della mente, Processi cognitivi...

  Coscienza · consapevolezza · conoscenza · avviso

In psicologia, con il termine consapevolezza si intende la percezione e la reazione cognitiva di un animale al verificarsi di una certa condizione o di un evento. Wikipedia

More definitions


Coscienza in ambito filosofico, si potrebbe genericamente definire come un'attività con la quale il soggetto entra in possesso, tramite l'apparato sensoriale, di un sapere immediato e irriflesso che riguarda la sua stessa, indistinta, corporea oggettività e tutto ciò che è esterno a questa. Wikipedia
Il termine coscienza indica quel momento della presenza alla mente della realtà oggettiva sulla quale interviene la "consapevolezza" che le dà senso e significato, raggiungendo quello stato di "conosciuta unità" di ciò che è nell'intelletto. Wikipedia
Coscienza in ambito filosofico Wikidata
Consapevolezza che il soggetto ha di sé e del mondo esterno Wikidata

    •     bn:00007498n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/05/23     •     Categories: 哲学の和製漢語, 心的過程, 意識, 意識研究...

  意識 · アウェアネス · 認識 · 人心地 · 意識レベル

アウェアネス(英: Awareness)は、意識、気づき、といった意味を持つ英語。 Wikipedia

More definitions


意識(いしき、Consciousness)は、一般に、「起きている状態にあること(覚醒)」または「自分の今ある状態や、周囲の状況などを認識できている状態のこと」を指す。 Wikipedia
知識を持つこと Japanese WordNet

彼は間違いに気づいていなかった Japanese WordNet

More examples

彼らの知性と博識は感動的だった Japanese WordNet
彼が直面した問題を突然自覚すること Japanese WordNet

FACET OF
    •     bn:00007498n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/05/23     •     Categories: Понятия буддизма, Психологические понятия, Сознание, Философские термины...

  Сознание   · Осознанность · информи́рованность · осведомлённость · созна́ние

Осознанность — понятие в современной психологии; определяется как непрерывное отслеживание текущих переживаний, то есть состояние, в котором субъект фокусируется на переживании настоящего момента, не вовлекаясь в мысли о событиях прошлого или будущего. Wikipedia

More definitions


Созна́ние — состояние психической жизни организма, выражающееся в субъективном переживании событий внешнего мира и тела организма, а также в отчёте об этих событиях. Wikipedia
Состояние внутреннего мира человека Wikidata

    •     bn:00007498n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/05/23     •     Categories: Conciencia, Psicología cognitiva, Terminología filosófica

  conciencia (filosofía) · conocimiento · Conciencia de si · Conciencia de sí · Conciencia moral

La conciencia es un estado en el cual el sujeto es consciente de algún objeto externo a un estado dentro de sí mismo. Wikipedia

More definitions


Conciencia, del latín conscientia; de cum y scire, saber. Wikipedia
Facultad de decidir y hacerse sujeto Wikidata
Estado de estar consciente. OmegaWiki


 

Translations

دراية, وعي, الوعي, إِدْراك, دِراية, عِلْم, معْرِفة, وَعْي, consciousness, إدراك, العقل الواعي, الوعي البشري, الوعي الهائل, الوعي الهائل،, واعية
意识, 意识, 认识 认识, consciousness, 分别识, 心识, 自我意识, 意 识, 惊 人 的 意 识 ,, 的 意 识 状 态 。, 认 识, 认定
awareness, consciousness, knowingness, cognisance, cognizance, aware records, Aware, conscious, Consciously, States of consciousness, access consciousness, Concept of consciousness, Concious, Conciousness, Conscious mind, Consiousness, Covert awareness, Defining consciousness, evolution of consciousness, Human consciousness, Noticing, Phenomenal consciousness, Psychological consciousness, Semicomatose, Semiconscious, State of consciousness, Tongue awareness
conscience, connaissance, Conscient, Bonne conscience, Conscience de soi, Conscience morale, Consciente, Libre-conscience, Prise de conscience, conscience humaine, conscience phénoménale, esprit conscient, état de conscience
bewusstsein, awareness, erkenntnis, aufklärung, aufmerksamkeit, bekanntheit, bewusstheit, erfassung, gewahrsein, gewahrwerden, kenntnis, verständnis, bewusst, bewusstseinsforschung, bewußtsein, individualitätsbewusstsein, individualitätsbewußtsein, menschlichen bewusstseins, phänomenalen bewusstseins, phänomenales bewusstsein, zustand des bewusstseins
συνείδηση, επίγνωση, γνώση, συναίσθηση, συνειδητοποίηση, συνείδησις, ανθρώπινης συνείδησης, εκπληκτική συνείδηση, κατάσταση της συνείδησης, συνειδητή, συνειδητό μυαλό, φαινομενική συνείδηση
מודעות, תודעה, הכרה עצמית, מודע, תודעה עצמית, ידיעה, תודעה פנומנלית, תודעת פנומנלי
चेतना, चेतन तत्त्व, चेतनाएँ, परम तत्त्व, जागरूकता, अभूतपूर्व चेतना, चेतन मन, संज्ञान
coscienza, consapevolezza, conoscenza, avviso, cosciente, coscienza fenomenica, coscienza umana, mente cosciente, stato di coscienza
意識, アウェアネス, 認識, 人心地, 意識レベル, 意識研究, 気づき, 意 識, 意 識 の 状 態, 意 識 の 状 態 を 。, 意識すること, 認知, 驚 異 的 な 意 識
сознание, осознанность, информи́рованность, осведомлённость, созна́ние, осознание, подсудность, сознания, состояние сознания, феноменального сознания, человеческого сознания
conciencia, conocimiento, Conciencia de si, Conciencia de sí, Conciencia moral, conciencia fenoménica, conciencia humana, consciente, estado de conciencia, mente consciente

Sources

WordNet du Français

conscience

MultiWordNet senses

consapevolezza, coscienza

Japanese WordNet senses

意識, 意識すること, 認識

Arabic WordNet (AWN v2) senses

إِدْراك, دِراية, عِلْم, معْرِفة, وَعْي

Greek WordNet senses

επίγνωση, συναίσθηση, συνειδητοποίηση

Multilingual Central Repository senses

conciencia, conocimiento

WOLF senses

connaissance, conscience

FrameNet senses

Wikiquote page titles

Wikiquote redirections

Translations from Wikipedia sentences

العقل الواعي, الوعي, الوعي البشري, الوعي الهائل, الوعي الهائل،, واعية
惊 人 的 意 识 ,, 意 识, 的 意 识 状 态 。
conscience, conscience humaine, conscience phénoménale, conscient, esprit conscient, état de conscience
bewusstsein, menschlichen bewusstseins, phänomenalen bewusstseins, phänomenales bewusstsein, zustand des bewusstseins
ανθρώπινης συνείδησης, εκπληκτική συνείδηση, κατάσταση της συνείδησης, συνείδηση, συνειδητή, συνειδητό μυαλό, φαινομενική συνείδηση
מודעות, תודעה, תודעה פנומנלית, תודעת פנומנלי
अभूतपूर्व चेतना, चेतन मन, चेतना, जागरूकता
consapevolezza, cosciente, coscienza, coscienza fenomenica, coscienza umana, mente cosciente, stato di coscienza
意 識, 意 識 の 状 態, 意 識 の 状 態 を 。, 驚 異 的 な 意 識
сознание, сознания, состояние сознания, феноменального сознания, человеческого сознания
conciencia, conciencia fenoménica, conciencia humana, consciente, estado de conciencia, mente consciente

Translations from SemCor sentences or monosemous words

إدراك, الوعي
意 识, 认 识, 认定
connaissance, conscience
bewusstsein, erkenntnis
γνώση
ידיעה, מודעות
जागरूकता, संज्ञान
conoscenza, consapevolezza
意 識, 認知
подсудность
conciencia, conocimiento
7 sources | 20 senses
6 sources | 17 senses
9 sources | 45 senses
10 sources | 24 senses
7 sources | 28 senses
7 sources | 18 senses
5 sources | 13 senses
5 sources | 11 senses
7 sources | 23 senses
7 sources | 19 senses
6 sources | 15 senses
8 sources | 26 senses

Categories

Wikipedia categories

Compounds

BabelNet

raise awareness, raising consciousness, affect consciousness, lack of awareness, altered state of consciousness, level of consciousness, levels of consciousness, awareness campaigns, spiritual consciousness, raise consciousness, raising awareness, sensory awareness, higher state of consciousness, consciousness expansion, global consciousness, consciousness level, Class consciousness, collective consciousness, primary consciousness, link awareness, loss of consciousness, animal consciousness, Universal Consciousness, altered state of awareness, awareness raising, history of consciousness, consciousness and the brain, awareness campaign, neural correlates of consciousness, clouding of consciousness
perte de conscience, directeur de conscience, conscience collective, conscience de soi, Cas de conscience, état de conscience, niveau de conscience, flux de conscience, perdre conscience, conscience historique
perdita di coscienza
conciencia nacional, toma de conciencia

Other forms

BabelNet

للوعي, والوعي
conscious thought, unconscious, conscious awareness, conscious experience
volonté, conscients, conscientes, consciemment
bewussten, Bewusste, Bewusstes, Bewusstwerden, Bewusstseins, bewusste, bewusster, bewusstes, Erinnerungen
התודעה, תודעות, תודעת, מודעים, מודעת, תודעתו, תודעה העצמית, תודעתה, תודעתי
consapevoli, consapevole, coscientemente, conscio