Preferred language:

This is the default search language used by BabelNet
Select the main languages you wish to use in BabelNet:
Selected languages will be available in the dropdown menus and in BabelNet entries
Select all

A

B

C

D

E

F

G

H

I

J

K

L

M

N

O

P

Q

R

S

T

U

V

W

X

Y

Z

all preferred languages
    •     bn:00063195n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/08/22     •         •     Categories: أدب, أنواع أدبية, أنواع الشعر, أنواع فنية...

  شعر (أدب) · شِعْر‎ · الشعر · Poetry · أشعار

يصعب تعريف الشعر بطريقة تشمل أنواعه في مختلف اللغات، لكن هناك عدد من التعريفات التي قد تعطي معنى متكاملاً عن ماهية الشعر. Wikipedia

HAS PART
couplet • بيت • Radif
حشو • عاطفه • تغزل • قطعه • اعاده • منظومه • صدر • عروض • versification
    •     bn:00063195n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/08/22     •         •     Categories: 文学体裁, 诗

  诗歌 · · 诗集 · 韵文 · 写诗

诗歌是一种有节奏和韵律、表达凝练、结构多样、用于反映生活和表达情感的文学体裁。 Wikipedia

More definitions


文学形式 Wikidata

    •     bn:00063195n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/08/22     •         •     Categories: Aesthetics, Genres of poetry, Poetic form, Poetry...

  poetry · poesy · verse · Poems · Poetic

Literature in metrical form WordNet

More definitions


Poetry is a form of literature that uses aesthetic and rhythmic qualities of language—such as phonaesthetics, sound symbolism, and metre—to evoke meanings in addition to, or in place of, the prosaic ostensible meaning. Wikipedia
Or a relation thereof. Wikipedia (disambiguation)
Form of literary art Wikidata
The class of literature comprising poems. Wiktionary
Poetry is a form of literary art in which language is used for its aesthetic and evocative qualities in addition to, or in lieu of, its apparent meaning. Wikiquote

    •     bn:00063195n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/08/22     •         •     Categories: Poésie

  poésie   · Poème d'amour · La poésie · Poeme · Poesie

La poésie est un genre littéraire très ancien, aux formes variées, écrites généralement en vers mais qui admettent aussi la prose, et qui privilégient l'expressivité de la forme, les mots disant plus qu'eux-mêmes par leur choix et leur agencement. Wikipedia

More definitions


Genre littéraire Wikidata
La poésie est un genre littéraire très ancien aux formes variées qui se constitue aussi bien en vers qu’en prose et dans lequel l’importance dominante est accordée à la « forme », c’est à dire au signifiant. Wikiquote

    •     bn:00063195n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/08/22     •         •     Categories: Literarischer Begriff

  Poesie   · Dichtkunst · Dichtung · Poesis · Poetisch

Als Poesie bezeichnet man erstens einen Textbereich, dessen Produktion traditionell nach den poetischen Gattungen geteilt wird. Wikipedia

More definitions


Literatur, deren Schöpfung traditionell nach den poetischen Gattungen geteilt wird Wikidata

    •     bn:00063195n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/08/22     •         •     Categories: Ποίηση

  ποίηση · ποίημα · ποίησις

Η ποίηση, μία από τις δύο βασικές κατηγορίες του λόγου, του έμμετρου λόγου, έναντι του πεζού λόγου και του διαλόγου και κατ'επέκταση της Λογοτεχνίας, ήταν ανέκαθεν δύσκολο να οριστεί και γι΄αυτό έχουν δοθεί διάφοροι ορισμοί ανά τους αιώνες. Wikipedia

More definitions


Λογοτεχνικό είδος σε έμμετρη συνήθως μορφή Greek WordNet

HAS PART
    •     bn:00063195n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/08/22     •         •     Categories: שירה

  שירה · שִׁירָה‎ · שִׁירָה · פואטיקה · פואמה

שִׁירָה היא צורה של אמנות - כתיבת יצירה ספרותית, בה נעשה שימוש בתכונותיה האסתטיות של השפה בנוסף למשמעות המילולית או במקומה. Wikipedia

More definitions


אמנות העוסקת ביצירה ספרותית אסתטית Wikidata

HAS PART
couplet • verse • Radif
حشو • عاطفه • تغزل • قطعه • اعاده • منظومه • صدر • عروض • versification
    •     bn:00063195n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/08/22     •         •     Categories: कविता, पद्य, साहित्य, हिन्दी

  काव्य   · कविता · कविता-संग्रह · कविता संग्रह · पद्य

काव्य, कविता या पद्य, साहित्य की वह विधा है जिसमें किसी कहानी या मनोभाव को कलात्मक रूप से किसी भाषा के द्वारा अभिव्यक्त किया जाता है। भारत में कविता का इतिहास और कविता का दर्शन बहुत पुराना है। इसका प्रारंभ भरतमुनि से समझा जा सकता है। कविता का शाब्दिक अर्थ है काव्यात्मक रचना या कवि की कृति, जो छन्दों की शृंखलाओं में विधिवत बांधी जाती है। काव्य वह वाक्य रचना है जिससे चित्त किसी रस या मनोवेग से पूर्ण हो। अर्थात् वहजिसमें चुने हुए शब्दों के द्वारा कल्पना और मनोवेगों का प्रभाव डाला जाता है। रसगंगाधर में 'रमणीय' अर्थ के प्रतिपादक शब्द को 'काव्य' कहा है। 'अर्थ की रमणीयता' के अंतर्गत शब्द की रमणीयता भी समझकर लोग इस लक्षण को स्वीकार करते हैं। पर 'अर्थ' की 'रमणीयता' कई प्रकार की हो सकती है। इससे यह लक्षण बहुत स्पष्ट नहीं है। साहित्य दर्पणाकार विश्वनाथ का लक्षण ही सबसे ठीक जँचता है। उसके अनुसार 'रसात्मक वाक्य ही काव्य है'। रस अर्थात् मनोवेगों का सुखद संचार की काव्य की आत्मा है। काव्यप्रकाश में काव्य तीन प्रकार के कहे गए हैं, ध्वनि, गुणीभूत व्यंग्य और चित्रध्वनि वह है जिस, में शब्दों से निकले हुए अर्थ की अपेक्षा छिपा हुआ अभिप्राय प्रधान हो। गुणीभूत ब्यंग्य वह है जिसमें गौण हो। चित्र या अलंकार वह है जिसमें बिना ब्यंग्य के चमत्कार हो। इन तीनों को क्रमशः उत्तम, मध्यम और अधम भी कहते हैं। काव्यप्रकाशकार का जोर छिपे हुए भाव पर अधिक जान पड़ता है, रस के उद्रेक पर नहीं। काव्य के दो और भेद किए गए हैं, महाकाव्य और खंड काव्य। महाकाव्य सर्गबद्ध और उसका नायक कोई देवता, राजा या धीरोदात्त गुंण संपन्न क्षत्रिय होना चाहिए। उसमें शृंगार, वीर या शांत रसों में से कोई रस प्रधान होना चाहिए। बीच बीच में करुणा; हास्य इत्यादि और रस तथा और और लोगों के प्रसंग भी आने चाहिए। कम से कम आठ सर्ग होने चाहिए। महाकाव्य में संध्या, सूर्य, चंद्र, रात्रि, प्रभात, मृगया, पर्वत, वन, ऋतु, सागर, संयोग, विप्रलम्भ, मुनि, पुर, यज्ञ, रणप्रयाण, विवाह आदि का यथास्थान सन्निवेश होना चाहिए। काव्य दो प्रकार का माना गया है, दृश्य और श्रव्य। दृश्य काव्य वह है जो अभिनय द्वारा दिखलाया जाय, जैसे, नाटक, प्रहसन, आदि जो पढ़ने और सुनेन योग्य हो, वह श्रव्य है। श्रव्य काव्य दो प्रकार का होता है, गद्य और पद्य। पद्य काव्य के महाकाव्य और खंडकाव्य दो भेद कहे जा चुके हैं। गद्य काव्य के भी दो भेद किए गए हैं- कथा और आख्यायिका। चंपू, विरुद और कारंभक तीन प्रकार के काव्य और माने गए है। == परिचय == सामान्यत: संस्कृत के काव्य-साहित्य के दो भेद किये जाते हैं- दृश्य और श्रव्य। दृश्य काव्य शब्दों के अतिरिक्त पात्रों की वेशभूषा, भावभंगिमा, आकृति, क्रिया और अभिनय द्वारा दर्शकों के हृदय में रसोन्मेष कराता है। दृश्यकाव्य को 'रूपक' भी कहते हैं क्योंकि उसका रसास्वादन नेत्रों से होता है। श्रव्य काव्य शब्दों द्वारा पाठकों और श्रोताओं के हृदय में रस का संचार करता है। श्रव्यकाव्य में पद्य, गद्य और चम्पू काव्यों का समावेश किया जाता है। गत्यर्थक में पद् धातु से निष्पन ‘पद्य’ शब्द गति की प्रधानता सूचित करता है। अत: पद्यकाव्य में ताल, लय और छन्द की व्यवस्था होती है। पुन: पद्यकाव्य के दो उपभेद किये जाते हैं—महाकाव्य और खण्डकाव्य। खण्डकाव्य को ‘मुक्तकाव्य’ भी कहते हैं। खण्डकाव्य में महाकाव्य के समान जीवन का सम्पूर्ण इतिवृत्त न होकर किसी एक अंश का वर्णन किया जाता है— खण्डकाव्यं भवेत्काव्यस्यैकदेशानुसारि च। – साहित्यदर्पण, ६/३२१कवित्व के साथ-साथ संगीतात्कता की प्रधानता होने से ही इनको हिन्दी में ‘गीतिकाव्य’ भी कहते हैं। ‘गीति’ का अर्थ हृदय की रागात्मक भावना को छन्दोबद्ध रूप में प्रकट करना है। गीति की आत्मा भावातिरेक है। अपनी रागात्मक अनुभूति और कल्पना के कवि वर्ण्यवस्तु को भावात्मक बना देता है। गीतिकाव्य में काव्यशास्त्रीय रूढ़ियों और परम्पराओं से मुक्त होकर वैयक्तिक अनुभव को सरलता से अभिव्यक्त किया जाता है। स्वरूपत: गीतिकाव्य का आकार-प्रकार महाकाव्य से छोटा होता है। इन सब तत्त्वों के सहयोग से संस्कृत मुक्तककाव्य को एक उत्कृष्ट काव्यरूप माना जाता है। मुक्तकाव्य महाकाव्यों की अपेक्षा अधिक लोकप्रिय हुए हैं। संस्कृत में गीतिकाव्य मुक्तक और प्रबन्ध दोनों रूपों में प्राप्त होता है। प्रबन्धात्मक गीतिकाव्य का सर्वोत्कृष्ट उदाहरण मेघदूत है। अधिकांश प्रबन्ध गीतिकाव्य इसी के अनुकरण पर लिखे गये हैं। मुक्तक वह हैजिसमें प्रत्येक पद्य अपने आप में स्वतंत्र होता है। इसके सुन्दर उदाहरण अमरूकशतक और भतृहरिशतकत्रय हैं। संगीतमय छन्द मधुर पदावली गीतिकाव्यों की विशेषता है। शृंंगार, नीति, वैराग्य और प्रकृति इसके प्रमुख प्रतिपाद्य विषय है। नारी के सौन्दर्य और स्वभाव का स्वाभाविक चित्रण इन काव्यों में मिलता है। उपदेश, नीति और लोकव्यवहार के सूत्र इनमें बड़े ही रमणीय ढंग से प्राप्त हो जाते हैं। यही कारण है कि मुक्तकाव्यों में सूक्तियों और सुभाषितों की प्राप्ति प्रचुरता से होती है। मुक्तककाव्य की परम्परा स्फुट सन्देश रचनाओं के रूप में वैदिक युग से ही प्राप्त होती है। ऋग्वेद में सरमा नामक कुत्ते को सन्देशवाहक के रूप में भेजने का प्रसंग है। वैदिक मुक्तककाव्य के उदाहरणों में वसिष्ठ और वामदेव के सूक्त, उल्लेखनीय हैं। रामायण, महाभारत और उनके परवर्ती ग्रन्थों में भी इस प्रकार के स्फुट प्रसंग विपुल मात्रा में उपलब्ध होते हैं। कदाचित् महाकवि वाल्मीकि के शाकोद्गारों में यह भावना गोपित रूप में रही है। पतिवियुक्ता प्रवासिनी सीता के प्रति प्रेषित श्री राम के संदेशवाहक हनुमान, दुर्योधन के प्रति धर्मराज युधिष्ठिर द्वारा प्रेषित श्रीकृष्ण और सुन्दरी दयमन्ती के निकट राजा नल द्वारा प्रेषित सन्देशवाहक हंस इसी परम्परा के अन्तर्गत गिने जाने वाले प्रसंग हैं। इस सन्दर्भ में भागवत पुराण का वेणुगीत विशेष रूप से उद्धरणीय है जिसकी रसविभोर करने वाली भावना छवि संस्कृत मुक्तककाव्यों पर अंकित है। == काव्य का प्रयोजन == राजशेखर ने कविचर्या के प्रकरण में बताया है कि कवि को विद्याओं और उपविद्याओं की शिक्षा ग्रहण करनी चाहिये। व्याकरण, कोश, छन्द, और अलंकार - ये चार विद्याएँ हैं। ६४ कलाएँ ही उपविद्याएँ हैं। कवित्व के ८ स्रोत हैं- स्वास्थ्य, प्रतिभा, अभ्यास, भक्ति, विद्वत्कथा, बहुश्रुतता, स्मृतिदृढता और राग। स्वास्थ्यं प्रतिभाभ्यासो भक्तिर्विद्वत्कथा बहुश्रुतता। स्मृतिदाढर्यमनिर्वेदश्च मातरोऽष्टौ कवित्वस्य ॥ मम्मट ने काव्य के छः प्रयोजन बताये हैं- काव्यं यशसे अर्थकृते व्यवहारविदे शिवेतरक्षतये। सद्यः परनिर्वृतये कान्तासम्मिततयोपदेशयुजे॥ == काव्य परिभाषा == कविता या काव्य क्या है इस विषय में भारतीय साहित्य में आलोचकों की बड़ी समृद्ध परंपरा है— आचार्य विश्वनाथ, पंडितराज जगन्नाथ, पंडित अंबिकादत्त व्यास, आचार्य श्रीपति, भामह आदि संस्कृत के विद्वानों से लेकर आधुनिक आचार्य रामचंद्र शुक्ल तथा जयशंकर प्रसाद जैसे प्रबुद्ध कवियों और आधुनिक युग की मीरा महादेवी वर्मा ने कविता का स्वरूप स्पष्ट करते हुए अपने अपने मत व्यक्त किए हैं। विद्वानों का विचार है कि मानव हृदय अनन्त रूपतामक जगत के नाना रूपों, व्यापारों में भटकता रहता है, लेकिन जब मानव अहं की भावना का परित्याग करके विशुद्ध अनुभूति मात्र रह जाता है, तब वह मुक्त हृदय हो जाता है। हृदय की इस मुक्ति की साधना के लिए मनुष्य की वाणी जो शब्द विधान करती आई है उसे कविता कहते हैं। कविता मनुष्य को स्वार्थ सम्बन्धों के संकुचित घेरे से ऊपर उठाती है और शेष सृष्टि से रागात्मक सम्बंध जोड़ने में सहायक होती है। काव्य की अनेक परिभाषाएँ दी गई हैं। ये परिभाषाएं आधुनिक हिंदी काव्य के लिए भी सही सिद्ध होती हैं। काव्य सिद्ध चित्त को अलौकिक आनंदानुभूति कराता है तो हृदय के तार झंकृत हो उठते हैं। काव्य में सत्यं शिवं सुंदरम् की भावना भी निहित होती है। जिस काव्य में यह सब कुछ पाया जाता है वह उत्तम काव्य माना जाता है। == काव्य के भेद == काव्य के भेद दो प्रकार से किए गए हैं– स्वरूप के अनुसार काव्य के भेद और शैली के अनुसार काव्य के भेद === स्वरूप के अनुसार काव्य के भेद === स्वरूप के आधार पर काव्य के दो भेद हैं - श्रव्यकाव्य एवं दृश्यकाव्य। ==== श्रव्य काव्य ==== जिस काव्य का रसास्वादन दूसरे से सुनकर या स्वयं पढ़ कर किया जाता है उसे श्रव्य काव्य कहते हैं। जैसे रामायण और महाभारत। श्रव्य काव्य के भी दो भेद होते हैं - प्रबन्ध काव्य तथा मुक्तक काव्य। ===== प्रबंध काव्य ===== इसमें कोई प्रमुख कथा काव्य के आदि से अंत तक क्रमबद्ध रूप में चलती है। कथा का क्रम बीच में कहीं नहीं टूटता और गौण कथाएँ बीच-बीच में सहायक बन कर आती हैं। जैसे रामचरित मानस। प्रबंध काव्य के दो भेद होते हैं - महाकाव्य एवं खण्डकाव्य। 1- महाकाव्य इसमें किसी ऐतिहासिक या पौराणिक महापुरुष की संपूर्ण जीवन कथा का आद्योपांत वर्णन होता है। महाकाव्य में ये बातें होना आवश्यक हैं- महाकाव्य का नायक कोई पौराणिक या ऐतिहासिक हो और उसका धीरोदात्त होना आवश्यक है। जीवन की संपूर्ण कथा का सविस्तार वर्णन होना चाहिए। श्रृंगार, वीर और शांत रस में से किसी एक की प्रधानता होनी चाहिए। यथास्थान अन्य रसों का भी प्रयोग होना चाहिए। उसमें सुबह शाम दिन रात नदी नाले वन पर्वत समुद्र आदि प्राकृतिक दृश्यों का स्वाभाविक चित्रण होना चाहिए। आठ या आठ से अधिक सर्ग होने चाहिए, प्रत्येक सर्ग के अंत में छंद परिवर्तन होना चाहिए तथा सर्ग के अंत में अगले अंक की सूचना होनी चाहिए।2- खंडकाव्य इसमें किसी की संपूर्ण जीवनकथा का वर्णन न होकर केवल जीवन के किसी एक ही भाग का वर्णन होता है। खंड काव्य में ये बातें होना आवश्यक हैं- कथावस्तु काल्पनिक हो। उसमें सात या सात से कम सर्ग हों। उसमें जीवन के जिस भाग का वर्णन किया गया हो वह अपने लक्ष्य में पूर्ण हो। प्राकृतिक दृश्य आदि का चित्रण देश काल के अनुसार और संक्षिप्त हो। ===== मुक्तक ===== इसमें केवल एक ही पद या छंद स्वतंत्र रूप से किसी भाव या रस अथवा कथा को प्रकट करने में समर्थ होता है। गीत कवित्त दोहा आदि मुक्तक होते हैं। ==== दृश्य काव्य ==== जिस काव्य की आनंदानुभूति अभिनय को देखकर एवं पात्रों से कथोपकथन को सुन कर होती है उसे दृश्य काव्य कहते हैं। जैसे नाटक में या चलचित्र में। === शैली के अनुसार काव्य के भेद === 1- पद्य काव्य - इसमें किसी कथा का वर्णन काव्य में किया जाता है, जैसे गीतांजलि 2- गद्य काव्य - इसमें किसी कथा का वर्णन गद्य में किया जाता है, जैसे जयशंकर की कमायनी ।।। गद्य में काव्य रचना करने के लिए कवि को छंद शास्त्र के नियमों से स्वच्छंदता प्राप्त होती है। 3- चंपू काव्य - इसमें गद्य और पद्य दोनों का समावेश होता है। मैथिलीशरण गुप्त की 'यशोधरा' चंपू काव्य है। == काव्य का इतिहास == आधुनिक हिंदी पद्य का इतिहास लगभग ८०० साल पुराना है और इसका प्रारंभ तेरहवीं शताब्दी से समझा जाता है। हर भाषा की तरह हिंदी कविता भी पहले इतिवृत्तात्मक थी। यानि किसी कहानी को लय के साथ छंद में बांध कर अलंकारों से सजा कर प्रस्तुत किया जाता था। भारतीय साहित्य के सभी प्राचीन ग्रंथ कविता में ही लिखे गए हैं। इसका विशेष कारण यह था कि लय और छंद के कारण कविता को याद कर लेना आसान था। जिस समय छापेखाने का आविष्कार नहीं हुआ था और दस्तावेज़ों की अनेक प्रतियां बनाना आसान नहीं था उस समय महत्वपूर्ण बातों को याद रख लेने का यह सर्वोत्तम साधन था। यही कारण है कि उस समय साहित्य के साथ साथ राजनीति, विज्ञान और आयुर्वेद को भी पद्य में ही लिखा गया। भारत की प्राचीनतम कविताएं संस्कृत भाषा में ऋग्वेद में हैं जिनमें प्रकृति की प्रशस्ति में लिखे गए छंदों का सुंदर संकलन हैं। जीवन के अनेक अन्य विषयों को भी इन कविताओं में स्थान मिला है। == सन्दर्भ == == इन्हें भी देखें == रस छन्द अलंकार काव्यशास्त्र == बाहरी कड़ियाँ == काव्यशास्त्र के मानदण्ड भारतीय काव्यशास्त्र की भूमिका कविता क्या है? Wikipedia

HAS PART
    •     bn:00063195n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/08/22     •         •     Categories: Poesia

  poesia · musa · verseggiare · Poesie · Letteratura poetica

L'arte di comporre versi ItalWordNet

More definitions


La poesia è una forma d'arte che crea, con la scelta e l'accostamento di parole secondo particolari leggi metriche, un componimento fatto di frasi dette versi, in cui il significato semantico si lega al suono musicale dei fonemi. Wikipedia
Arte di usare, per trasmettere un messaggio, il significato semantico delle parole insieme al suono e il ritmo che queste imprimono alle frasi Wikipedia (disambiguation)
Poesia come stile letterario. MultiWordNet

    •     bn:00063195n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/08/22     •         •     Categories: 文学のジャンル, 詩

  · 詩歌 · 詩形 · 詩集 · 長詩

詩(し、うた、英: poetry, poem; 仏: poésie, poème; 独: Gedicht)は、言語の表面的な意味(だけ)ではなく美学的・喚起的な性質を用いて表現される文学の一形式である。 Wikipedia

More definitions


文学の一形式 Wikidata
韻律表現をとる文学 Japanese WordNet

HAS PART
二行連 • 韻文詩 • Radif
حشو • عاطفه • تغزل • قطعه • اعاده • منظومه • صدر • عروض • versification
    •     bn:00063195n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/08/22     •         •     Categories: Поэзия, Философия

  поэзия   · поэ́зия · Стихи · Poetry · Поэтическое произведение

Поэ́зия (греч. Wikipedia

More definitions


Форма литературного творчества Wikidata
Поэзия  — особый способ организации речи; привнесение в речь дополнительной меры, не определенной потребностями обыденного языка; словесное художественное творчество, преимущественно стихотворное. Wikiquote

    •     bn:00063195n     •     NOUN     •     Concept    •     Updated on 2019/08/22     •         •     Categories: Formas de arte, Poesía, Subgéneros líricos

  poesía   · poema · verso · Poético · Genero poetico

La poesía es un género literario considerado como una manifestación de la belleza o del sentimiento estético por medio de la palabra, en verso o en prosa.[1]​ Los griegos entendían que podría haber tres tipos de poesía, la lírica o canción, cantada con acompañamiento de lira o arpa de mano, que es el significado que luego se generalizó para la palabra, incluso sin música; la dramática o teatral y la épica o narrativa. Wikipedia

More definitions


Género literario Wikidata
La poesía es un género literario. Wikiquote


Translations

شعر, شِعْر‎, الشعر, poetry, أشعار, الشاعر, شاعرة, poesy, الشعرية, شعر الحب, قصيدة حب
诗歌, 诗, 诗集, 韵文, 写诗, 诗体, 诗歌艺术, 诗词, 迪完, 爱 情 诗, 爱 情 诗 ,, 诗 意 的
poetry, poesy, verse, poems, Poetic, poetical, Collection of verse, Elements of a poem, Elements of poetry, Formal poetry, In verse, List of poetic forms, List of verse forms, Love poem, Love poems, Love poetry, Lyrical poet, Peom, poem, Poemas, Poesias, Poetic form, Poetic forms, Poetic genre, Poetic genres, Poetic language, Poetically, poeticism, poetics, poetrie, Poetry form, Poetry genres, Satirical poem, Satirical poems, Satirical poet, Satirical poetry, Satirical poets, Traditional poetry, Types of poetry, Verse forms
poésie, Poème d'amour, La poésie, Poeme, Poesie, Poèsie, Poésie dramatique, Poëme, Poësie, Recueil de poèmes, Recueil de poésie, Recueils de poèmes, Recueils de poésie, Œuvre poétique, forme poétique, poèmes, poésie amoureuse, poétique, vers
poesie, dichtkunst, dichtung, poesis, poetisch, gedichte, liebesgedicht, liebeslyrik, poetische, poetische form
ποίηση, ποίημα, ποίησις, ποίημα αγάπης, ποίηση αγάπη, ποιήματα, ποιητική, ποιητική μορφή
שירה, שִׁירָה‎, שִׁירָה, פואטיקה, פואמה, שירה - מונחים, שירים, פיוטי, שיר אהבה, שירת אהבה
काव्य, कविता, कविता-संग्रह, कविता संग्रह, पद्य, कविताओं, प्रेम कविता
poesia, musa, verseggiare, Poesie, Letteratura poetica, Testo poetico, arte poetica, forma poetica, poesia d'amore, poetica
詩, 詩歌, 詩形, 詩集, 長詩, ポエジー, ポエトリー, 律文, 詠, 詩 的 な, 詩句, 賦, 韻文
поэзия, поэ́зия, стихи, poetry, поэтическое произведение, стихотворцы, поэзии, любовной поэзии, поэтической форме
poesía, poema, verso, Poético, Genero poetico, Genero poético, Género poetico, Género poético, La poesia, Obra poética, Poesia, Poesias, Poesías, Poeticidad, Poetico, forma poética, poema de amor, poemas, poesía amorosa

Sources

WordNet senses

ItalWordNet senses

poesia

WordNet du Français

poésie

MultiWordNet senses

musa, poesia, verseggiare

Chinese Open WordNet senses

诗, 诗歌, 诗集, 韵文

Japanese WordNet senses

ポエジー, ポエトリー, 律文, 詠, 詩, 詩句, 詩歌, 賦, 韻文

Greek WordNet senses

ποίημα, ποίηση

Multilingual Central Repository senses

poema, poesía, verso

WOLF senses

poésie, vers

Hebrew senses

שִׁירָה

Wikiquote page titles

Translations from Wikipedia sentences

الشعرية, شعر الحب, قصيدة حب
爱 情 诗, 爱 情 诗 ,, 诗 意 的
forme poétique, poème d'amour, poèmes, poésie, poésie amoureuse, poétique
gedichte, liebesgedicht, liebeslyrik, poesie, poetische, poetische form
ποίημα αγάπης, ποίηση, ποίηση αγάπη, ποιήματα, ποιητική, ποιητική μορφή
שיר אהבה, שירה, שירת אהבה
कविता, कविताओं, काव्य, प्रेम कविता
forma poetica, poesia, poesia d'amore, poesie, poetica
詩 的 な
любовной поэзии, поэзии, поэтической форме, стихи
forma poética, poema de amor, poemas, poesía, poesía amorosa, poético

Translations from SemCor sentences or monosemous words

poesy, الشعر
poésie
poesie
ποίηση
פיוטי, שירה
कविता
arte poetica, poesia
поэзии, поэзия
poesía
6 sources | 16 senses
6 sources | 19 senses
7 sources | 50 senses
9 sources | 27 senses
6 sources | 14 senses
7 sources | 14 senses
7 sources | 13 senses
6 sources | 13 senses
8 sources | 17 senses
7 sources | 19 senses
8 sources | 14 senses
8 sources | 26 senses

Compounds

BabelNet

الشعر العمودي, الشعر الجاهلي, الشعر الفارسي
collections of poetry, folk poetry, lyric poems, Roman poetry, language poetry, poetic tradition, Albanian poetry, poetry readings, poems and stories, poetry reading, book of poetry, Finnish poetry, poetry collections, Slovak poetry, Russian poetry, new poetry, poetry prizes, American poetry, Old Testament poetry, Song poetry, Australian poetry, experimental poetry, Malagasy poetry, Chinese poetry, poetry central, Medieval poetry, heroic verse, Canadian poetry, poetic movement, years in poetry, Haiku poems, line of poetry, poetic analysis, book of poems, Brazilian Poetry, lyrical poetry, French poetry, 1919 in Poetry, poetry magazine, Tang dynasty poetry, oral poetry, Selected Poems, Italian poetry, poetry collection, occasional poetry, Poetry magazine, sung poetry, epic poetry, bad poetry, occasional poems, Hungarian poetry, Greek poetry, professor of poetry
poésie en prose, poésie anglaise, bourse Goncourt de la poésie, poésie grecque, poésie russe, chaire de poétique, poésie française, poésie légère, recueil de poèmes, poésie romantique, poésie irlandaise, poésie en vieil anglais, poésie hébraïque, prix Goncourt de la poésie, poésie chinoise
visuelle Poesie, Konkrete Poesie
שירה עממית
poesia religiosa, poesia lirica, poesia metafisica, poesia sonora, poesia neogreca, poesia gallese, poesia latina, poesia inglese, poesia sperimentale, poetica di Leopardi, poesia pura
poesía de la experiencia, poesía gauchesca, poesía moderna, Premio Pulitzer de Poesía, poesía para niños, arte poético, Festival Internacional de Poesía, poesía escáldica, Premio Nacional de Poesía, poesía irlandesa, poesía infantil, poesía social

Other forms

BabelNet

شاعرا, الأشعار, والشعر, شعراء, الشعر المسيحي, للشعر, بالشعر, شاعر, شعري, شعرية, الشعري, الشعراء
forms, Poet, couplets, Verse, verses, verse composition, poets, form, poet, versification, formal, rhythm
poésies, Poème, art poétique, poème, genre poétique, poétesse, poète, poètes, recueil, poétesses, poètesse, Poète, poétiques, Poèmes, textes poétiques
Poet, Poetischen, poetischer, Gedichte, poetischen, poetisches
שירו, פואטית, שיר, שירתו, משורר, שרים, קולות, שירתה, שיריה, פואמות, שירת, שירתם, שירית, לשיר, משוררים, פואטי, שיריו, שיריים, שירי
poetiche, rime, poetico, opere poetiche, poeta, poetici, composizioni poetiche, poeti, componimento poetico, raccolta poetica, versi poetici, poeticità, poetessa, poeticamente, opera poetica, lirica, poemi, testo, testi poetici, versi, componimenti poetici, Poetry, composizione poetica, poema, liriche
詩作品, 詩作, 詩文, ポエム
poetisa, poética, poema, Poeta, lírica, formas poéticas, poetas, poemario, versos, poéticos, poéticas, poeta

External Links

DBpedia